इंदौर - फिर बना नंबर 1,स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 लीग की हुई दिल्ली से घोषणा - Madhya Live Khabar

Breaking

मध्य लाइव खबर पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति, विज्ञापन मोबाइल- +917879749111 पर व्हाट्सएप्प करें....मध्य लाइव खबर को आवश्यकता है तमाम जिले ओर तहसील में अनुभव व्यक्ति की... संपर्क - +917879749111, +916264366332

इंदौर - फिर बना नंबर 1,स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 लीग की हुई दिल्ली से घोषणा

इंदौर - [ संवाददाता डेस्क ]

सफाई के मामले इंदौर लगातार चौथी बार नंबर-1 बन गया है। अर्बन मिनिस्टर हरदीप पुरी की मौजूदगी में गुरुवार को दिल्ली में ऑनलाइन कार्यक्रम में परिणाम की घोषणा की गई। दूसरे नंबर पर गुजरात का सूरत और तीसरे नंबर महाराष्ट्र का नवी मुंबई है। स्वच्छता सर्वेक्षण-2020 लीग के तीनों क्वार्टर में भी इंदौर अव्वल रहा था। भोपाल में वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पूर्व महापौर मालिनी गौड़, कलेक्टर मनीष सिंह, निगमायुक्त प्रतिभा पाल और पूर्व निगमायुक्त आशीष सिंह मौजूद थे। मध्य प्रदेश को कुल 10 अवॉर्ड मिले। इनमें इंदौर के अलावा भोपाल, जबलपुर, बुरहानपुर, रतलाम, उज्जैन, नगर पालिका सिहोरा, नगर परिषद शाहगंज, नगर परिषद कांटाफोड़ और छावनी परिषद महू कैंट शामिल हैं।

दूसरे नंबर पर सूरत और फिर नवी मुंबई
इंदौर फिर नं. 1 बन गया है। इसके साथ ही दूसरे नंबर पर सूरत और फिर नवी मुंबई का नाम है। इसके अलावा टॉप -10 में विजयवाड़ा, अहमदाबाद, राजकोट, भोपाल, चंडीगढ़, विशाखापटनम, बड़ोदारा शामिल हैं।

कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया कि इंदौर शहर के जागरुक नागरिक जनप्रतिनिधि, तत्कालीन महापौर, तत्कालीन आयुक्त आशीष सिंह और सफाई कर्मचारियों की मेहनत का नतीजा है, जिससे इंदौर चौथी बार नंबर -1 पर आया है। इंदौर शहर के नागरिकों ने स्वच्छता की अदत को जनआंदोलन के रूप में लेकर इस शहर का मान-सम्मान और गौरव.. संपूर्ण विश्व में कायम किया है।

पूर्व महापौर मालिनी गौड का कहना है कि प्रधानमंत्री ने जिस प्रकार अभियान की शुरुआत की थी। हमने उसे मिशन बनाया और एक नहीं, दो नहीं तीन नहीं, चौथी बार नंबर वन आया है... हमारा इंदौर। शहर देश के चार हजार शहरों में नंबर वन आया है। इंदौर की पूरी जनता से धन्यवाद देती हूं, जिन्होंने हमारा नगर निगम का सहयोग किया और जिस तरह सभी लोग अवेयर हुए और इस जनता की अवेयरनेस के कारण हम आज इस स्थान तक पहुंचे हैं तो यह चौथा अवार्ड जनता को समर्पित करती हूं।