जबलपुर - अपर आयुक्त की बेटी की 'शादी प्रकरण' में बढ़ाई गई धाराएं - कोरोना काल में उड़ाई आदेश की धज्जियां - Madhya Live Khabar

Breaking

मध्य लाइव खबर पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति, विज्ञापन मोबाइल- +917879749111 पर व्हाट्सएप्प करें....मध्य लाइव खबर को आवश्यकता है तमाम जिले ओर तहसील में अनुभव व्यक्ति की... संपर्क - +917879749111, +916264366332

जबलपुर - अपर आयुक्त की बेटी की 'शादी प्रकरण' में बढ़ाई गई धाराएं - कोरोना काल में उड़ाई आदेश की धज्जियां



जबलपुर - ( संवाददाता डेस्क )
जबलपुर में कोरोना का मीटर लगातार बढ़ता जा रहा है और अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 1004 तक पहुँच गई है । वहीं दूसरी ओर जबलपुर वासी कोरोना संक्रमण के फैलने का जिम्मेदार नगर निगम अतिक्रमण अधिकारी को बता रहे हैं।
थाना प्रभारी मदनमहल नीरज वर्मा ने आज बताया कि 13 जुलाई की दोपहर अखिलेश ठाकुर ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी जिसमें उल्लेख किया गया था कि कोरोना संक्रमण के कारण जिला दण्डाधिकारी जबलपुर द्वारा लाॅकडाउन का आदेश करते हुये सभी तरह के आयोजन बिना अनुमति के प्रतिबंधित किये गये थे एवं अनुमति प्राप्त करने पर निश्चित संख्या में एवं कोविड -19 संक्रमण से बचाव सम्बंधी सावधानियों का पालन करने के आदेश पारित किये गये थे, लेकिन नगर निगम उपायुक्त राकेश अयाची द्वारा अपनी बेटी की शादी की रिशेप्शन पार्टी गुलजार होटल में आयोजित की गयी और पार्टी के आयोजन के सम्बंध में राकेश अयाची एवं होटल मालिक संजय उर्फ नीटू भाटिया द्वारा कोई अनुमति प्राप्त नहीं की गई। ना ही लाॅकडाउन के निर्देशों का पालन  किया गया। पार्टी में बड़ी संख्या मेें लोग एकत्रित हुये तथा कोरोना वायरस के संक्रमण से प्रभावित हुये। दोनों के द्वारा जिला दण्डाधिकारी जबलपुर के आदेश का उल्लंघन किया गया है। रिपोर्ट पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था।

- महामारी, आपदा प्रबंधन की अनदेखी
मदन महल थाना प्रभारी के अनुसार जांच पर नगर निगम उपायुक्त राकेश अयाची एवं होटल मालिक संजय उर्फ नीटू भाटिया द्वारा कोविड-19 वैश्विक महामारी एवं आपदा प्रबंधन की अनदेखी की जाने से अत्याधिक संख्या मे लोगों का संक्रमित होना पाए जाने पर प्रकरण में धारा 269, 270 भा.द.वि. एवं आपदा प्रबंधन की धारा 51 तथा महामारी अधिनियम की धारा 3 बढ़ाई गयी।

- होटल मालिक पर साक्ष्य छिपाने के आरोप
रिपोर्ट में जांच  के दोेैरान पार्टी में कितने लोगों की उपस्थिति थी, इस सम्बंध में जानकारी हेतु वीडियो फुटेज मांगे गये थे, पर होटल मालिक के द्वारा षड़यंत्र पूर्वक साक्ष्य छिपाने एवं नष्ट किये जाने के उद्देश्य से उपलब्ध नहीं कराये गये। होटल गुलजार में लगे कैमरों के डीव्हीआर जप्त करते हुये प्रकरण में धारा 201, 120बी भादवि भी बढ़ाई गयी है।