रायसेन - साइकिल पर चादर की झोली में लटकाकर अस्पताल ले गया, फिर मानवता हुई शर्मसार - Madhya Live Khabar

Breaking

मध्य लाइव खबर पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति, विज्ञापन मोबाइल- +917879749111 पर व्हाट्सएप्प करें....मध्य लाइव खबर को आवश्यकता है तमाम जिले ओर तहसील में अनुभव व्यक्ति की... संपर्क - +917879749111, +916264366332

रायसेन - साइकिल पर चादर की झोली में लटकाकर अस्पताल ले गया, फिर मानवता हुई शर्मसार

रायसेन - (संवाददाता डेस्क) मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। अस्पताल की मनाही के बाद एक पति को अपनी बीमार पत्नी को साइकिल पर लटकाकर अस्पताल से जाने पर मजबूर होना पड़ा। गरीब दंपती के पास पैसे नहीं थे। पति ने अस्पताल प्रबंधन से गुहार लगाई। लेकिन अस्पताल प्रबंधन ने साफ मना कर दिया। इसके बाद 75 वर्षीय वृद्ध लकवा पीड़ित पत्नी को साइकिल पर कपड़ा की झोली में लटकाकर अस्पताल से ले गया।जानकारी के अनुसार बुजुर्ग दंपती जिला मुख्यालय से करीब 80 किलोमीटर दूर कुंडली-बम्होरी गांव के रहने वाले है। बुजुर्ग की पत्नी का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा था, जहां से उसे डिस्चार्ज कर दिया गया। लेकिन घर ले जाने के लिए घर जाने के लिए एंबुलेंन नहीं उपलब्ध कराई गई। इसके बाद बुजुर्ग ने साइकिल में चादर की झोली बनाई और फिर अपनी पत्नी को उसमें बैठाकर 80 किलोमीटर दूर अपने गांव निकल पड़ा। रास्ते में जा रहे बुजुर्ग पर एक समाज सेवी की नजर पड़ी फिर पूर्व मंत्री प्रभुराम चौधरी को फोन किया। चौधरी ने तहसीलदार अजय पटेल को फोन पर बताया कि एक व्यक्ति महिला मरीज को साइकिल पर बैठा कर ले जा रहा है। इसके बाद तहसीलदार पटेल ने अपना वाहन भेजकर दंपती को वापस बुलाया और एंबुलेंस में शिफ्ट कर बम्होरी गांव के लिए रवाना किया।