पार्टी ऑफिस में कांग्रेस नेताओं के बीच चले चाकू!, एकदूसरे पर लगाए अश्लील आरोप - Madhya Live Khabar

Breaking

मध्य लाइव खबर पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति, विज्ञापन मोबाइल- +917879749111 पर व्हाट्सएप्प करें....मध्य लाइव खबर को आवश्यकता है तमाम जिले ओर तहसील में अनुभव व्यक्ति की... संपर्क - +917879749111, +916264366332

पार्टी ऑफिस में कांग्रेस नेताओं के बीच चले चाकू!, एकदूसरे पर लगाए अश्लील आरोप

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस पार्टी में मनमुटाव, गुटबाजी और आपस में मारपीट ये अब आम बात हो गई है. लेकिन ये गुटबाजी अब युवा कांग्रेस नेताओं के बीच भी तेजी से बढ़ने लगी है. आलम यह है कि सोमवार को कांग्रेस भवन में ही युवा कांग्रेस के दो नेताओं के बीच जमकर लात-घूंसे और चाकू चले. साथ ही एकदूसरे पर अश्लील आरोप भी लगाए गए. इस मारपीट में दोनों गुटों के नेताओं को गंभीर चोटें भी लगी है.

जानकारी के अनुसार, ये मारपीट असंगठित मजदूर प्रकोष्ठ के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष सद्दाम सोलंकी और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दिलीप चौहान के बीच पद पाने को लेकर हुई. हालांकि ये कोई पहला मामला नहीं है. जब इस मामले को लेकर दोनों के बीच मारपीट हुई हो. पीसीसी चीफ और महामंत्री के बेहद करीब समझे जाने वाले सद्दाम सोलंकी ने झगड़े के बाद धारदार नुकीले औजार से दिलीप चौहान पर हमला कर दिया.
इस हमले में दिलीप चौहान लहुलुहान हो गए. मारपीट की घटना के बाद दिलीप चौहान ने भी कांग्रेस भवन में धारदार हथियार लहराने शुरू कर दिए. हालांकि, इस घटना के दौरान दोनों के बीच जमकर अपशब्दों का भी इस्तेमाल हुआ और अश्लील आरोप भी लगे.

ये है मारपीट की वजह
कुछ दिन पहले पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल ने असंगठित मजदूर प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष के लिए सद्दाम सोलंकी को नियुक्त किया था. सद्दाम पर आरोप है कि उन्होंने कांग्रेस के पूर्व विवादित नेता के साथ सांठगांठ कर पद हासिल किया और दिलीप चौहान को हटवा दिया. इस मामले को लेकर पहले भी विवाद हो चुका था.
मामला नहीं हुआ दर्ज
इस मारपीट की घटना की सूचना कोतवाली पुलिस को मिली तो पुलिस भी मौके पर पहुंच गई, लेकिन तब तक कांग्रेस के शहर अध्यक्ष विकास उपाध्याय व अन्य नेताओं ने मामला शांत करा दिया था. बाद में पुलिस मौके से लौट आई. अभी तक इस मामले में शिकायत दर्ज नहीं कराई गई.